0

India Inflation | India Inflation Rate January 2023 – Vegetable Prices | जनवरी में रिटेल महंगाई घटकर 5.1% पर आई: इसका कारण खाने-पीने के सामान की घटी कीमतें, दिसंबर में 5.69% रही थी

  • February 12, 2024

नई दिल्ली4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

भारत की रिटेल महंगाई जनवरी 2024 में घटकर 5.1% पर आ गई है। यह महंगाई का तीन महीने का निचला स्तर है। इससे पहले दिसंबर 2023 में महंगाई 5.69% रही थी। वहीं नवंबर में यह 5.55%, अक्टूबर में 4.87% और सिंतबर में 5.02% रही थी। खाने-पीने के सामान की कीमतें घटने से महंगाई घटी है।

दिसंबर की तुलना में जनवरी में सब्जियों की महंगाई में गिरावट देखने को मिली है। जनवरी में सब्जियों की महंगाई 27.6% से घटकर 27% पर आ गई। दूसरी ओर, ईंधन और बिजली की महंगाई -0.60% हो गई है, जो दिसंबर में -0.77% थी।

  • खाद्य महंगाई दर 9.5% से घटकर 8.3% पर आ गई
  • ग्रामीण महंगाई दर 5.93% से घटकर 5.34% पर आ गई
  • शहरी महंगाई दर 5.46% से घटकर 4.92% पर आ गई

रिटेल महंगाई 4% पर रखने का टारगेट
RBI की महंगाई को लेकर रेंज 2%-6% है। आदर्श स्थिति में RBI चाहेगा कि रिटेल महंगाई 4% पर रहे।

महंगाई कैसे प्रभावित करती है?
महंगाई का सीधा संबंध पर्चेजिंग पावर से है। उदाहरण के लिए यदि महंगाई दर 6% है, तो अर्जित किए गए 100 रुपए का मूल्य सिर्फ 94 रुपए होगा। इसलिए महंगाई को देखते हुए ही निवेश करना चाहिए। नहीं तो आपके पैसे की वैल्यू कम हो जाएगी।

महंगाई कैसे बढ़ती-घटती है?
महंगाई का बढ़ना और घटना प्रोडक्ट की डिमांड और सप्लाई पर निर्भर करता है। अगर लोगों के पास पैसे ज्यादा होंगे तो वे ज्यादा चीजें खरीदेंगे। ज्यादा चीजें खरीदने से चीजों की डिमांड बढ़ेगी और डिमांड के मुताबिक सप्लाई नहीं होने पर इन चीजों की कीमत बढ़ेगी।

इस तरह बाजार महंगाई की चपेट में आ जाता है। सीधे शब्दों में कहें तो बाजार में पैसों का अत्यधिक बहाव या चीजों की शॉर्टेज महंगाई का कारण बनता है। वहीं अगर डिमांड कम होगी और सप्लाई ज्यादा तो महंगाई कम होगी।

CPI से तय होती है महंगाई
एक ग्राहक के तौर पर आप और हम रिटेल मार्केट से सामान खरीदते हैं। इससे जुड़ी कीमतों में हुए बदलाव को दिखाने का काम कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स यानी CPI करता है। हम सामान और सर्विसेज के लिए जो औसत मूल्य चुकाते हैं, CPI उसी को मापता है।

कच्चे तेल, कमोडिटी की कीमतों, मेन्युफैक्चर्ड कॉस्ट के अलावा कई अन्य चीजें भी होती हैं, जिनकी रिटेल महंगाई दर तय करने में अहम भूमिका होती है। करीब 300 सामान ऐसे हैं, जिनकी कीमतों के आधार पर रिटेल महंगाई का रेट तय होता है।

खबरें और भी हैं…

#India #Inflation #India #Inflation #Rate #January #Vegetable #Prices #जनवर #म #रटल #महगई #घटकर #पर #आई #इसक #करण #खनपन #क #समन #क #घट #कमत #दसबर #म #रह #थ