0

Women should prepare themselves for physical relations, husbands should understand the importance of emotional connection. | फोरप्ले-आफ्टरप्ले क्यों जरूरी: शारीरिक संबंध बनाने के लिए महिलाएं खुद को तैयार करें, पति भावनात्मक जुड़ाव की अहमियत समझें

  • Hindi News
  • Women
  • Women Should Prepare Themselves For Physical Relations, Husbands Should Understand The Importance Of Emotional Connection.

41 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

हेल्दी सेक्सलाइफ के लिए अलग से कुछ करने की जरूरत नहीं है। बस दोनों पार्टनर को अपनी तरफ से कोशिश करनी चाहिए। डॉ. राजन भोसले बता रहे हैं हेल्दी सेक्सलाइफ के जरूरी नियम।

पार्टनर को मुझसे शिकायत रहती है कि फिजिकल रिलेशन के दौरान मैं अपनी भावनाओं को व्यक्त नहीं करती। मेरी परवरिश ऐसे माहौल में हुई है जहां शारीरिक रिश्ते के बारे में बात तक नहीं की जाती। पति के सामने भी मेरे मन में एक अजीब सी हिचक रहती है। पति की शिकायत दूर करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?

इसमें आपकी कोई गलती नहीं है। हमारे देश में महिलाओं की परवरिश ऐसे ही की जाती है। उनके लिए शारीरिक संबंध बनाना हमेशा शर्म और संकोच का विषय रहा है। लेकिन शादी के बाद महिलाओं को अपने व्यवहार में बदलाव लाना चाहिए। पति पहले तो प्यार से शिकायत करते हैं, लेकिन जब पत्नी में कोई बदलाव नहीं पाते तो चिढ़ने लग जाते हैं।

महिलाएं चाहती तो हैं कि उनका फिजिकल रिलेशन रोमांच से भरा रहे, लेकिन इसके लिए अपनी तरफ से कोई पहल नहीं करना चाहतीं। सेक्शुअल रिलेशन सिर्फ पति की नहीं दोनों पार्टनर की जिम्मेदारी है। इस बात को जो महिलाएं नहीं समझ पातीं उनके शारीरिक संबंध में तनाव बढ़ने लगता है। इससे बचने के लिए महिलाओं को खुद में बदलाव लाना चाहिए। इससे आपके रिश्ते में फिर से ताजगी आ जाएगी।

खुद पहल करना सीखें

फिजिकल रिलेशन की शुरुआत हमेशा पति ही करें ये जरूरी नहीं। कभी कभी आप खुद भी पहल कीजिए। आपका ऐसा करना पति को अच्छा लगेगा। इससे आप दोनों के बीच हिचक दूर होगी और आप अपने फिजिकल रिलेशन को पहले से ज्यादा एंजॉय करेंगे।

दिल की बात बताएं

अंतरंग पलों के दौरान महिलाएं पति से दिल की बात नहीं कहतीं, जिससे पति को समझ नहीं आता कि उन्हें क्या करना चाहिए। महिलाओं को फिजिकल रिलेशन के दौरान फोरप्ले और आफ्टरप्ले की जरूरत होती है, लेकिन ये बात वो पति को नहीं बताएंगी तो पति को उनकी इच्छा के बारे में पता कैसे चलेगा। महिलाओं को खुद में ये बदलाव लाना चाहिए। फिजिकल रिलेशन में उन्हें क्या अच्छा लगता है ये बात पति को जरूर बताएं। दोनों पार्टनर जब अपनी इच्छा बताते हैं तो रिश्ते का रोमांच दोगुना हो जाता है।

‘ना’ नहीं ‘हां’ कहें

पति जब फिजिकल रिलेशन की डिमांड करते हैं तो ज्यादातर महिलाएं पहले ‘ना’ कह देती हैं। बार बार पत्नी के मुंह से ना सुनकर पति को लगता है जैसे वो उनके साथ अत्याचार कर रहे हैं। ऐसे में कई पुरुष चाहकर भी अपनी इच्छा को रोक देते हैं। बार बार ‘ना’ कहने के बजाय ‘हां’ कहना सीखें। फिर देखिए, आपके रिश्ते में कैसी ताजगी आ जाएगी।

मोटापा वजह नहीं

शादी के कुछ सालों बाद, खासकर बच्चे के जन्म के बाद महिलाओं के शरीर में कई बदलाव आ जाते हैं। पेट और स्तनों की त्वचा ढीली पड़ जाती है, जिससे कई महिलाओं के मन में अपने शरीर को लेकर हीनभावना आ जाती है। उनकी हीनभावना का असर उनके शारीरिक संबंध पर भी पड़ने लगता है।

लेकिन महिलाओं को मन में किसी भी तरह की हीनभावना नहीं लानी चाहिए। आप दोनों बच्चे के पेरेंट्स हैं और बच्चे के जन्म के बाद महिला के शरीर में आना वाला बदलाव नॉर्मल है। ये बात पति भी जानते हैं, फिर आपको शर्म या

शरीर को लेकर मन में हीनभावना लाने की क्या जरूरत है। अपने शरीर के बदलावों को स्वीकारें और बेझिझक अंतरंग पलों का आनंद लें।

ये बदलाव जरूरी है

फोन या सोशल साइट्स पर ज्यादा समय बिताने के बजाय ये टाइम अपने पार्टनर को दें। रात में थक गए हैं, तो सुबह जल्दी उठकर अंतरंग पलों का आनंद लें। हफ्तेभर बिजी हैं, तो वीकेंड में शारीरिक संबंध के लिए समय निकालें। महीने में एक वीकेंड ट्रिप प्लान करें, जहां कोई आपको डिस्टर्ब न करे और आप पूरा समय एक-दूसरे को दे सकें।

सेक्स सीरियसली में जानिए कुछ सवाल-

मेरी उम्र 42 साल है। शादी को 21 साल हो गए हैं। हमारी शादीशुदा जिंदगी बहुत खुशहाल रही है। पति और 20 साल का बेटा मुझे बहुत प्यार करते हैं। फिर भी मेरा आकर्षण अपने बॉस की तरफ बढ़ रहा है। मैं उनसे मिलने और बात करने के मौके ढूंढती रहती हूं। बॉस मेरी तरफ आकर्षित हों इसलिए मैं सज-धज कर ऑफिस जाती हूं। मैं जानती हूं कि मेरा व्यवहार गलत है, फिर भी मैं अपना आकर्षण कम नहीं कर पा रही हूं। खुद को बदलने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?

आपने अपने बारे में जो भी बातें बताई हैं, वो ऑब्सेसिव लव डिसऑर्डर (OLD) का संकेत हो सकती हैं। आमतौर पर युवाओं में ऑब्सेसिव लव डिसऑर्डर देखा जाता है, लेकिन एक मेडिकल कंडीशन ऐसी भी जहां शादीशुदा महिला को प्यार हो जाता है। ऐसे में महिला प्यार में डूबकर इतना आगे निकल जाती है कि पति और बच्चों को भी नजरअंदाज करने लगती है। पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पति का कहना है कि मैं बेवजह बात को बढ़ा रही हूं, लेकिन मुझे उनका दोस्तों के बीच मेरे शरीर के अंगों का जिक्र करना पसंद नहीं। क्या मैं वाकई इस बात को बढ़ा रही हूं?

फिजिकल रिलेशन पति-पति का बेहद निजी मामला है। इसका जिक्र दूसरों से नहीं करना चाहिए। न ही किसी से अपनी सेक्शुअल लाइफ की तुलना करनी चाहिए। हर किसी की पसंद और खुशी अलग-अलग होती है। ऐसे में दूसरों से तुलना करके अपने रिश्ते में तनाव पैदा नहीं करना चाहिए। फिजिकल रिलेशन की दूसरों से तुलना करने के बजाय एक दूसरे की इच्छा, खुशी और सहमति का सम्मान करें। दूसरों से तुलना करने से रिश्ते में दूरियां बढ़ती हैं। पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डॉ. राजन भोसले, एमडी

प्रोफेसर एंड एचओडी, सेक्शुअल मेडिसिन डिपार्टमेंट, केईएम हॉस्पिटल एंड जी. एस. मेडिकल कॉलेज

सेक्स सीरियसली के लिए अपने सवाल इस आईडी पर भेजें: db.women@dbcorp.in

सब्जेक्ट लाइन में सेक्स सीरियसली लिखना न भूलें

खबरें और भी हैं…

#Women #prepare #physical #relations #husbands #understand #importance #emotional #connection #फरपलआफटरपल #कय #जरर #शररक #सबध #बनन #क #लए #महलए #खद #क #तयर #कर #पत #भवनतमक #जड़व #क #अहमयत #समझ